इंदिरा गांधी सेंटर फॉर एटॉमिक रिसर्च (Indira Gandhi Center for Atomic Research) में कई पदों पर नौकरियां, Visit Official Website www.igcar.gov.in

इंदिरा गांधी सेंटर फॉर एटॉमिक रिसर्च (Indira Gandhi Center for Atomic Research) ने 337 रिक्त पदों के लिए नोटिफिकेशन जारी किया है. इन पदों के लिए इच्छुक अभ्यर्थी आईजीसीएआर की अधिकारिक वेबसाइट www.igcar.gov.in के जरिए ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं

किन इन पदों पर होगी भर्तियां : नोटिफिकेशन के अनुसार अटेंडेंट, टेक्निकल ऑफिसर, साइंटिफिक ऑफिसर, स्टाइपेंडरी ट्रेनी, वर्क असिस्टेंट, कैंटीन टेक्नीशियन, ड्राइवर, सिक्योरिटी गार्ड स्टेनोग्राफर, अपर डिविजनल क्लर्क सहित कई पदों पर भर्तियां की जाएगी.

शैक्षणिक योग्यता : कुछ पदों के लिए पीएचडी और कुछ पदों के लिए अधिकतम शैक्षणिक योग्यता बीटेक निर्धारित की गई है. अभ्यर्थी अधिक शैक्षणिक योग्यता संबंधी जानकारी के लिए जारी नोटिफिकेशन को देख सकते हैं.

आयु  : अभ्यर्थियों की उम्र 18 से 40 वर्ष होनी चाहिए. वहीं कई पदों के लिए अधिकतम उम्र सीमा 28,  तो कई पदों के लिए 37 वर्ष निर्धारित की गई है.

आवेदन शुल्क: 
सामान्य और ओबीसी वर्ग के अभ्यर्थियों के लिए 300 रुपए जबकि एससी, एसटी, दिव्यांग और सभी वर्ग की महिलाओं के लिए किसी भी प्रकार का आवेदन शुल्क नहीं लिया जाएगा.

ऑनलाइन आवेदन शुरू होने की तिथि –  15 अप्रैल 2021
ऑनलाइन आवेदन की अंतिम तिथि – 14 मई 2021
अधिकारिक वेबसाइट – www.igcar.gov.in

igcar-recruitment-2021-indira-gandhi-center-for-atomic-research-released-notification-for- 337-post-apply-before-14th may 2021-Visit Official Website www.igcar.gov.in

admin

Admin Is Most Important User to our Website

Next Post

Maharashtra : Virar के विजय बल्लभ अस्पताल के ICU में लगी भीषण आग, 13 मरीजों की हुई मौत; पीएम मोदी, सीएम ठाकरे ने किया मुआवजे का ऐलान

Fri Apr 23 , 2021
मुंबई से सटे विरार में स्थित विजय बल्लभ अस्पताल के ICU में आग लगने से 13 करोंना मरीज़ों की मौत हो गई है जब की 21 मरीज़ गम्भीर रूप से घायल बताए जा रहे हैं. मिली जानकारी के मुताबिक़ तड़के सुबह 3 बजे के आसपास अस्पताल के ICU में शार्ट […]

Note from Editor

At Bhartiya Samachar we're looking beyond the headlines to drive meaningful coverage that empowers the common man. Looking beyond the headlines, we want to connect across the country to issues that matters most. We explore the reality of hashtag politics and the statistics. We will unearth and bring the truth behind each story in order to promote global conscience.

Quick Links